loading...

मैं आपको नारी के शरीर के कुछ ऐसे अंगों के बारे में बताना चाहता हूँ जिन को सहलाने चूमने मसलने से स्त्री को यौनसम्बन्ध बनाने के लिए तैयार किया जा सकता है या यों कहें कि उसे कामोत्तेजित किया जा सकता है।
महिला और पुरुष दोनों के ही शरीर में उत्तेजित करने वाले ऐसे कई अंग होते हैं। ये अंग यौन सम्बन्ध बनाने के लिए उत्तेजित करने में बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। ये अंग अति संवेदनशील होते हैं और इनको छूने मात्र से ही नर या नारी उत्तेजित हो सकते हैं।

इन अंगों को छू कर, सहला कर पुरुष काफ़ी आसानी से अपनी महिला साथी को उत्तेजित कर सकता है। यौन सम्बन्धों में चरम आनन्द की प्राप्ति के लिए इन अंगों के बारे में जानना बहुत जरूरी है।

कान

महिलाओं को उत्ते‍जित करने वाले अंगों में कान का विशेष महत्व है। दरअसल कानों के हर हिस्से में और हर ओर चेतना वाली नसें होती हैं.. जो नारी में सेक्स के प्रति उत्तेजना जागृत करती हैं।
अपनी उंगलियों से अपनी महिला संगिनी के कानों को हल्के से सहलाइए या खींचिये, कान के नीचे की लटकन को चूसिये, कान के पीछे के हिस्से को चूमकर भी आप उनको उत्तेजित कर सकते हैं। कान में फूंक मारने से भी नारी उत्तेजित होती है।

होंठ

होंठ किसी भी महिला के लिए एक बहुत ही बड़ा उत्तेजना जगाने के केन्द्र होते हैं। नारी के लब उत्तेजना पैदा करने वाली रगों से सराबोर होते हैं। पुरुष धीरे-धीरे अपनी साथी महिला के लबों को चूम कर आसानी से उत्तेजित कर सकता है।
दरअसल होंठ सेक्स सम्बन्ध बनाने से पहले की क्रीड़ा के लिए सबसे महत्वपूर्ण अंग हैं। चुम्बन के भिन्न भिन्न तरीकों को आज़मा कर पुरुष अपनी महिला मित्र को रिझा सकते हैं।

गर्दन

गर्दन और गले को चूमना, सहलाना, सौम्य तरीके से काटना और हल्के से थपथपाना उसको सिसकारने पर मज़बूर कर देगा। गला भी महिला को उत्तेजित करने वाला प्रमुख अंग है। पुरुष गर्दन में उंगली से प्यार से सहला कर अपनी महिला दोस्त को आसानी से उत्तेजित कर सकते हैं।

कन्धे

काफ़ी सारी महिलाओं को कन्धों पर चूमना, आलिंगन करना ही काफी हद तक उत्तेजित कर देता है। गर्दन, गले की भान्ति ही कन्धे में काफ़ी संवेदनशील रगें होती हैं जो उत्तेजना को बढ़ाती हैं।
आप प्रेम भरे अन्दाज़ से अपनी साथी के कंधे को चूमकर उसे यौन सम्बन्ध बनाने के लिए तैयार कीजिये।

सिर

सिर भी उत्तेजना को बढ़ाने वाला एक अंग है, सिर पर तेल मालिश करने से महिला उत्तेजित होती है। कई शोधों में भी यह बात सामने आई है कि सिर पर मालिश करने से मानसिक तनाव दूर होता है.. दिमाग में रक्त का संचार अच्छे से होता है और दिमाग को आराम मिलता है, इससे दिमाग़ में सेरोटोनिन और डोपामाइन हारमोन्ज़ का स्राव होता है। ये उत्तेजना बढ़ाने के लिए बहुत जरूरी है।ब।

घुटने के नीचे

घुटने के नीचे के पैरों के पिछले हिस्से भी स्त्रियों के अति संवदेनशील अंग हैं। इन अंगों पर तेल मालिश करने, चूमने और उंगलियाँ फ़िराने से ही उत्तेजना होती है। तो महिला साथी को उत्तेजित करने के लिए शरीर के अन्य हिस्सों की तरह घुटने के पीछे के भी ध्यान केंद्रित कीजिए।

उंगलियाँ

महिलाओं की उंगलियाँ भी बहुत उत्तेजक होती हैं, लेकिन अकसर लोगों को ध्यान इस तरफ नहीं जाता। उंगलियों के पोरों को हल्के से सहलाते हुए दबाने से नारी में तेजी से उत्तेजना का संचार होता है। उंगलियों को सहलाते हुए उन्हें होंठों से चूम सकते हैं, इससे दोनों प्यार गहरा तो होगा ही.. साथ ही आपकी साथी यौन सम्बन्धों के लिए उत्तेजित भी होगी।

पैरों के तलवे

महिलाओं के पैरों के तलवे बहुत ही संवेदनशील होते हैं, उन पर हाथ फ़िराने, गुदगुदी करने से स्त्रियाँ बहुत जल्दीं उत्तेजित होती हैं। स्त्रियों के पैरों को अपने पैरों से सहलाकर आप उनमें गुदगुदी कर सकते हैं, आपका यह कार्य उनको बहुत भायेगा।
इस गुदगुदी से आपका और आपकी साथी का तनाव भी दूर होगा और यह तरीका आप दोनों को खुश रखेगा।

कुहनी

कुहनी के अन्दर की तरफ चूमने से महिलाओं में हल्की उत्तेजना का संचार होता है। कुहनी के अन्दर के तरफ की त्वचा बहुत कोमल और संवेदनशील होती है। इस जगह हल्के से सहलाते हुए आप इनको चूम सकते हैं, इससे आनन्द की अनुभूति होती है और इससे स्त्री में उत्तेजना बढ़ती है।

हथेलियाँ

यह बात सभी जानते हैं कि हम अपने हाथों से बहुत कुछ कर सकते हैं। आपको शायद यह पता हो कि महिलाओं की हथेलियाँ भी बहुत संवेदनशील होती हैं और उनको हथेलियों को सहला कर आसानी से उत्तेजित किया जा सकता है।
आप अपनी साथी की हथेलियों में अपनी उंगलियों से चुहलबाजी कीजिये, हथेलियों में गुदगुदी कीजिये और हथेलियों को चूमिए।

ये कुछ तरीके आप दोनों को परम सुख दिलवाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकते हैं।

आशा करता हूँ कि मेरे बताए तरीकों को आप इस्तेमाल करके खुद को और अपने साथी को संतुष्ट कर सकेंगे.. धन्यवाद।

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here