loading...

सेक्स कैसे किया जाए.. अपने पार्ट्नर को कैसे अधिकाधिक सेक्स संतुष्टि दी जाए ये वो प्रश्न हैं जिसके ऊपर बहुत सी जगह पर टॉपिक स्टार्ट किए गए.. मगर कहीं पर भी इन पर तसल्लीबक्श उत्तर नहीं मिले।
मैंने ढूँढने की बहुत कोशिश की.. पर मुझे कहीं नहीं मिले। इसलिए इतने आवश्यक मुद्दे पर मैंने काफ़ी रिसर्च की और अब ‘सेक्स कैसे करना चाहिए’ इस टॉपिक पर कुछ लिखने की कोशिश कर रहा हूँ। मुझे उम्मीद ही नहीं.. पूरा यकीन है कि ये मेरी ‘सेक्स कैसे करें’ के बारे में लिखी गई ये पोस्ट आपकी जरूर हेल्प करेगा।

लेकिन अपनी बात शुरू करने से पहले ही मैं ये क्लियर कर देना चाहता हूँ कि मैं कोई एक्सपर्ट या कोई स्पेशलिस्ट नहीं हूँ। मैं यहाँ बस वो बातें शेयर कर रहा हूँ.. जो मैंने ‘सेक्स कैसे करें’ टॉपिक के बारे में रिसर्च करते हुए समझे और जो अपने पर्सनल एक्सपीरियेन्स से सीखे।
तो चलिए शुरू करते हैं।

एक बेहतरीन सेक्स सम्बन्ध के लिए दोनों पार्ट्नर्स का एक-दूसरे से खुला होना बहुत ही ज़रूरी है.. इससे सेक्स में अगर कहीं भी हिचकिचाहट आने की संभावना होती है.. तो वो दिक्कत तुरंत सुलझ जाती है। लेकिन अगर आपस में खुलापन ना हो.. तो कोई शारीरिक दिक्कत होने पर पार्ट्नर एक-दूसरे से अपनी समस्या को लेकर कोई भी डिस्कस नहीं कर पाते हैं और दिक्कत और भी बढ़ जाती है.. और बाद में ये नासूर बन जाती है।

जैसे कि.. मेल सेक्स ऑर्गन (लिंग) का नाम लेना पुरूष के लिए बहुत आसान होता है.. लेकिन जब बात महिला या लड़की की आती है.. तब वो उस शब्द को यूज करने से कतराती है। हालाँकि.. आजकल ज़माना बदल रहा है और लड़कियाँ भी किसी से कम नहीं हैं.. फिर भी एक अच्छे संस्कार वाली औरत या लड़की ऐसे शब्दों को लेने में जरा कतराती है..। इसी के चलते जब उसे अपने पार्ट्नर के सेक्स ऑर्गन से कुछ दिक्कत होगी.. तो वो बोल नहीं पाएगी या बताने में दिक्कत महसूस करेगी।

एक उदाहरण के लिए सोचिए.. किसी की नई-नई शादी हुई है और वाइफ को ये डर है कि जब सेक्स होगा तो बहुत दर्द होगा.. तो उस वक़्त पति की ये ड्यूटी है कि वो पत्नी का डर दूर करे और सेक्स इस प्रकार आराम से करे कि पत्नी को दर्द ना हो.. या कम से कम दर्द हो। इसके लिए आयल यूज करें.. क्योंकि अगर उसे दर्द हुआ तो उसका डर उसके ज़हन में हमेशा के लिए बैठ जाएगा.. अतः पति को पत्नी के भ्रम और डर को दूर करना ही होगा।

आपने गौर किया होगा कि जब हम किसी भी चीज़ का नाम लेते हैं तो उसकी एक तस्वीर हमारे ज़हन में एकदम से बन जाती है और इसके साथ ही आपका दिमाग़ तुरंत ही उस चीज़ से जुड़ी पॉज़िटिव और निगेटिव फीलिंग से भी इनफॉर्म कर देता है। अब सेक्स ऑर्गन्स के बारे में भी कुछ ऐसा ही होता है।
पुरुषों और महिलाओं दोनों के ही सेक्स ऑर्गन्स का नाम आम सोसाइटी में पब्लिक्ली यूज करना किसी भी तरह से अच्छा नहीं समझा जाता है। अक्सर बेशरम और बदतमीज़ लोग सेक्स ऑर्गन्स को गाली गलौच में बोल देते है। लेकिन वह एक शरीफ़ और शर्मोहया वाली महिला कैसे इन चीजों के नाम लेने को पॉज़िटिवली ले सकती है?

हाँ अगर आप इन सेक्स ऑर्गन्स के नाम खुद से ही कुछ बना कर रखते हैं तो इनका निगेटिव असर कम हो जाएगा और पत्नी किसी झिझक के बिना वो नाम बोल सकेगी। जैसे कि पुरुष के लिंग को बादशाह और महिला के प्राइवेट पार्ट को मल्लिका कहें.. तो बहुत अच्छा रहेगा। आप खुद ‘बादशाह’ शब्द की तुलना उस नाम से करके देखो.. जिस नाम से आप उसका नाम अपनी भाषा में बचपन से सुनते और सुनते आ रहे हों.. तो आपको खुद ही महसूस होगा कि ये एक बहुत अच्छा आइडिया है।

आप सेक्स ऑर्गन्स के नाम बादशाह और मल्लिका के अलावा भी अंग्रेजी या अपनी भाषा में कुछ भी रख सकते हो.. बस नाम अच्छे होने चाहिए। इससे पति और पत्नी कुछ टाइम बाद खुल कर बातचीत कर सकते हैं। इसी तरह से सम्भोग क्रियाओं के नाम बोलने की बजाए लव और प्यार का शब्द इस्तेमाल करें।
जैसे कि अगर रात को सेक्स का प्रोग्राम हो तो आप पत्नी को कहो ‘आज रात को मैं आपसे प्यार करूँगा..’ इसका असर उससे कहीं अच्छा होगा.. अगर ये कहें कि ‘मैं आज तुमसे सेक्स करूँगा..’ इसलिए ये कहें कि ‘आई विल मेक लव यू’ बजाए ‘आई विल हैव सेक्स विद यू..’

विवाहित और लव कपल्स सेक्स कैसे करें?

कुछ लोग ये समझते हैं कि फोरप्ले से सेक्स की शुरूआत होती है.. मगर फॉरप्ले से पहले चंद बातों का ख़याल रखना बहुत ज़रूरी है।

वो इस प्रकार है-

1- ये बेहतर होगा अगर आप मॉर्निंग में ही डिसाइड कर लें कि आज की रात ज़िंदगी की एक हसीन रात होगी। ये एहसास दिन भर पत्नी (पार्ट्नर) के दिल में फूल खिलाते रहेंगे।

2- अगर आप शेव करते हैं तो आप उस शाम को ज़रूर शेव करें।

3- उस दिन ड्रेस का ख़ास ख्याल रखें.. पार्ट्नर वो वाला ड्रेस पहनें जो आपके पार्ट्नर को पसंद हो.. ना कि सिर्फ़ अपनी पसंद का ड्रेस पहनें।

4- एक अच्छी खुश्बू मोहब्बत के इस हसीन लम्हों को और हसीन कर देती है। मगर इस में भी वो वाली खुश्बू पसन्द करनी चाहिए.. जो दोनों को पसंद हो वरना इस का असर विपरीत भी हो सकता है।

5- पति को इंप्रेस करने के लिए पत्नी को शाम को खूबसूरत सा मेकअप करना चाहिए.. साथ ही लिपस्टिक का कलर वो वाला हो.. जो पति को सबसे ज़्यादा पसंद हो।

6- दोनों पार्ट्नर्स को नहाना चाहिए और जिस्म के गैरज़रूरी बालों की सफाई ज़रूर करनी चाहिए।

7- बेडरूम का वातावरण बहुत ही अहम रोल अदा करता है.. इसलिए कमरे में हल्की रोशनी का इंतज़ाम होना चाहिए। हो सके तो ऐसे समय पर कमरे में जीरो वॉट का रेड कलर का बल्ब रोशन करें.. इससे आपको कमरा और भी प्यारा-प्यारा सा लगेगा और हसीन रात और भी हसीन हो जाएगी।

8- ऐसी हर चीज़ को बंद कर दें.. जो आपको डिस्टर्ब कर सकती है। सेलफोन ऑफ कर दें.. पीसी.. लॅपटॉप और टीवी बंद कर दें।

9- अगर आप म्यूज़िक के दीवाने हैं तो मोहब्बत भरे गानों की एक बढ़िया सी प्लेलिस्ट बैकग्राउंड में प्ले कर दें.. बहुत ही कम आवाज़ मे… इससे एक तो आपका मूड अच्छा रहेगा और बेडरूम की आवाज़ बाहर भी नहीं जाएगी।

10- कमरे में उस वक्त की ज़रूरत की चीजें जैसे कन्डोम।आयल और साफ़ कपड़े या टिश्यूस का होना भी ज़रूरी है।

नोट : आयल स्वास्थ्य की नजर से अनुचित होता है और इससे गुप्तांगों में इन्फेक्शन भी हो सकते हैं। डॉक्टर्स भी आयल इस्तेमाल करने से मना करते हैं।

जब सम्भोग का समय आए.. उससे पहले अपना मुँह और दाँत ज़रूर साफ़ करें.. जिससे आपकी सांसों की महक फ्रेश हो जाए।

अपने आपको अनड्रेस करते समय भी अपने ड्रेस ठीक से अरेंज करके रखें क्योंकि यदि अचानक एकदम किसी एमर्जेन्सी में आपको जल्दी कपड़े पहनने पड़ें.. तो ऐसा ना हो कि आप ढूँढते रह जाओ.. ये चीज़ किधर गई.. वो किधर गई।

सम्भोग के बाद अगर दुबारा सम्भोग करना हो.. तो एक बार फेश हो कर और वापस बेड पर आ जाएं.. और गपशप करें कुछ ड्राइफ्रूट आदि जैसी चीज़ जो आपको फ्रेश कर दें.. कोई मीठी चीज़ खा लें..

तो ये थे कुछ सेक्स करने के बेस्ट टिप्स.. अगर आपको इनमें कुछ ग़लत लगे हों.. तो आप प्लीज़ मुझे उसके बारे में नीचे दिए गए कमेंट बॉक्स में लिख कर जरुर बताये |

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here